सोशल मीडिया पर

सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे चूतियों की भीड़ है जो हिन्दू मुस्लिम के बीच नफरत और खाई बढ़ाने और उन्हें भड़काने वाले वीडियो और पोस्ट करते रहते हैं।

इन चूतियों के पास समाजोपयोगी कोई क्रिएटिविटी नहीं है, मीडिया के नाम पर भड़वागिरी और समाज को बांटने वाली मुहिम चलाते हैं।

इन्हें तो टीआरपी मिल जाती है मगर देश कौर समाज का क्या, इन्हें शर्म नहीं आती पैसों की खातिर अपना ईमान बेंच देते हैं।

कभी बन्दे मातरम, कभी तीन तलाक, कभी मंदिर मस्जिद को आगे कर मुँह में माइक घुसेड़ देते हैं और कहते है बन्दे मातरम बोलो, देश विरोधी इन चूतियों को कौन समझाए, कोई भी आदमी बिना मतलब या इनके जबरजस्ती करने से क्यों कुछ बोलेगा, मुँह में माइक घुसेड़ कर ये क्या दिखाना चाहते हैं, यहाँ कोई तानाशाही है क्या की जो ये कहेंगे वही हो, फारुख अब्दुल्ला ने चिल्ला चिल्ला कर दसियों बार बन्दे मातरम बोला, क्या सलूक किया उनके साथ?

अरे कुछ तो शर्म करो, आग और नफरत बहुत तेज फैलती हैं, इसमें चिंगारी मत भड़काओ।
अगर समाज का कुछ भला चाहते हो तो उन लोगों के विचार दिखाओ जो समाज की एकता, भाईचारे और सद्भाव के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

ये बीजेपी टाइप कुछ मुल्ला मौलवियों को पकड़कर बहुसंख्यक समाज में मुसलमानों के प्रति जो डर और नफरत पैदा कर रहे हो न यह समाज के लिए बहुत घातक है, बहुत डैंजर है।

इकोनॉमी क्रैश कर गयी है, इस पर कुछ रिसर्च करो न, बैंक दिवालिया होकर बन्द हो रहे हैं, मर्ज हो रहे हैं, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर सबसे बुरे दौर में हैं इन सब मुद्दों पर तो तुम्हारी बोलती बंद हो जाती है।

घर चलाने के लिए सरकार के पास पैसे नहीं है, पीएसयू बेंच बेंच कर अम्बानियों और अडानीयों के हाथ देश को गिरवी रखा जा रहा है, इस पर तो कभी बहस नहीं करते। तुम्हारा एजेंडा लोगों को बांटकर वोट बैंक बनाने की है मगर तुम भूल रहे हो, यही जनता जिस दिन तुमसे रोटी कपड़ा मकान रोजी रोजगार स्वस्थ्य और सुरक्षा पर जब सवाल करेगी, तुम भाग खड़े होंगे, दूसरों के मुँह में माइक घुसेड़ने वालों जिस दिन जनता ने तुमसे तुम्हारे कुकर्मों पर सवाल करना शुरू किया तुम्हारे मुँह में हलख सुख जाएगी, आवाज नहीं निकलेगी। अरे जब तक तुम्हारे मन पसन्द की सरकार है, कर लो भड़वागिरी, लेकिन मत भूलो जनता तुम जैसे जाहिलों का राजनीतिक मकसद समझ चुकी है, तुम चाहे जितना लड़ाने, भड़काने की कोशिश कर लो, जनता समझदार है, देश के भले के लिए जनता काम करेगी, तुम टीआरपी के लिए फालतू के मुद्दे उठाते रहो, जिस दिन जनता अपने बच्चों के भविष्य, शांति, एकता और भाईचारे का महत्व समझ लेगी, तुम्हारा चैनल और प्रोपेगंडा स्वतः बन्द हो जाएगा।

माफ करना अगर कोई बात कड़वी लगी हो

https://www.facebook.com/amarendra.sharma.357

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *