वहां कोई नक्सली या माओवादी नहीं था

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में एक गांव है

उस गांव का नाम है सारकेगुड़ा

उस गांव में कुछ साल पहले भारत सरकार की केंद्रीय पुलिस सीआरपीएफ ने जाकर 17 आदिवासियों को गोली से उड़ा दिया था

इन 17 मारे गए लोगों में 9 बच्चे थे

जिसमें एक बच्चा गणित में स्वर्ण पदक विजेता भी था

एक बच्ची थी जिसे स्कूल जाना पसंद नहीं था उसे खेत की मेड़ों पर दौड़ना और चिड़ियों के पीछे भागना पसंद था

इन सब बच्चों को गोली से उड़ा दिया गया

केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी

प्रदेश में भाजपा की सरकार थी

दोनों सरकारों ने मिलकर झूठ बोला

और कहा कि मारे गए लोग नक्सलवादी थे

हम लोगों ने शोर मचाया

मैंने सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन डाली

एक जज की अध्यक्षता में जांच आयोग बिठाया गया

अब उस जांच आयोग की रिपोर्ट आई है

जांच आयोग ने अपने फैसले में कहा है कि मारे गए लोग निर्दोष थे

वहां कोई नक्सली या माओवादी नहीं था

पुलिस ने चारों तरफ से गोली चलाई थी

इसलिए पुलिस वालों की गोली पुलिस को ही लगी थी

हम लोगों ने शुरू से यही कहा था

लेकिन सरकार और सरकार के चापलूस लोगों ने हमें देशद्रोही नक्सल समर्थक अर्बन नक्सल कहकर चुप करा दिया था

अब न्यायाधीश की रिपोर्ट आ चुकी है

मुझे बिल्कुल विश्वास नहीं है कि सरकार दोषी सिपाहियों को कोई सजा देगी

उस वक्त गृहमंत्री चिदंबरम था

उसने बयान दिया था की हमारे सुरक्षा बलों को माओवादियों के विरुद्ध एक बड़ी सफलता मिली है

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भाजपा के रमन सिंह ने कहा था कि मारे गए लोग माओवादी थे

चिदंबरम आज जेल में है

रमन सिंह सत्ता से बाहर है

हमारे साथी मानव अधिकार के मुद्दे उठाने के कारण जेलों में है

आदिवासी लगातार उसी तरह मारे जा रहे हैं

राष्ट्रवाद का शोर है

मुसलमानों को दुश्मन घोषित कर दिया गया है

हम अपनी बेरोजगारी, किसानों की तबाही, मजदूरों की तबाही, आदिवासियों का मारा जाना, सबको भूल भाल कर अमित शाह जैसे गुंडे के द्वारा मुसलमानों के खिलाफ भड़काई गई नफरत में मजा ले रहे हैं

हमारे जैसा आत्मघाती खुद को बर्बाद करने में मजा लेने वाला बेवकूफ समाज दूसरा नहीं होगा

कड़े शब्दों के लिए माफी लेकिन यही सत्य है

इस खबर का लिंक https://indianexpress.com/article/india/chhattisgarh-june-2012-encounter-probe-no-firing-by-villagers-no-proof-they-were-maoists-6144815/?fbclid=IwAR2jjnnw8qXLRaJdJnbV_QnU7AcDKXHJJ_yvrEV0BFsCtTJ6966pgcCVmPA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *